अलवर राजस्थान का “सिंह द्वार”


अलवर
राजस्थान का सिंह द्वार
क्षेत्रफल 8380 (km2), जनसंख्या :
अलवर जयपुर संभाग में है
उपखंड : तीन , तहसील : दस
मूसी महारानी की छतरी
जयसमंद बांध 1910 राजा जयसिंह
सरिस्का अभयारण्य 1955 (टाइगर सेंचुरी)
उज्जैन के राजा और भृतहरि ने अपने अंतिम दिनों में अलवर को ही अपनी तपोस्थली बनाया था
हनुमानजी का लक्खी मेला पांडुपोल भाद्रपद शुक्ल चतुर्थी व पंचमी
भिवाडी नोटों की स्याही बनाने का कारखाना , राज्य का तीसरा कंटेनर डिपो
तिजारा अल्लाउदीन आलमशाह का मकबरा , चन्द्र प्रभु जी का जैन मन्दिर, जेरोली- राष्ट्रीय स्तर का प्रथम खेल गाँव
निमुचना किसान आंदोलन राजस्थान का जलियावाला हत्या कांड- गाँधी जी)
सिलीसेड महाराज विनयसिंह द्वारा निर्मित झील व महल , राजस्थान का नन्दन कानन, भृतहरिकी तपस्या स्थली
Post a Comment

Popular Posts