गरासिया जनजाति


गरासिया à

गरासिया जनजाति अपने को चौहान राजपूतो का वंशज मानती है
ये लोग शिव दुर्गा और भैरव की पूजा करते है
Ø सिरोही, गोगुन्दा (उदयपुर), बाली(पाली), जिलो में निवास करती है.
Ø सोहरी जिन कोठियों में गरासिया अपने अन्नाज का भंडारण करते है. उसे सोहरी कहते है.
Ø हूरें व्यक्ति की मृत्यु होने पर स्मारक बनाते है.
Ø सहलोत मुखिया को सहलोत कहते है.
Ø मोर बंधिया विशेष प्रकार का विवाह जिसमे हिन्दुओ की भांति फेरे लिए जाते है.
Ø पहराबना विवाह नाममात्र के फेरे लिए जाते है , इस विवाह में ब्राह्मण की आवश्यकता नही पडती है.
Ø ताणना विवाह इसमें न सगाई के जाती है, न फेरे है . इस विवाह में वर पक्ष वाले कन्या पक्ष वाले को कन्या मूल्य वैवाहिक भेंट के रूप में प्रदान करता है.
इनमे सफेद रंग के पशुओं को पवित्र माना जाता है.
Post a Comment

Popular Posts